गुरुवार, 18 जून 2020

४४८.अपने गाँव से

मेरे गाँव,
मैं वापस लौट रहा हूँ.

सिर पर गठरी उठाए,
छालों भरे पाँवों से 
थके बदन को घसीटते 
मैं निकल पड़ा हूँ 
सैकड़ों मील की यात्रा पर.

गिरते-पड़ते, ठोकरें खाते 
लहूलुहान पांव लिए 
शायद पहुँच जाऊं तुम तक.

अगर पहुँच जाऊं,
तो दुत्कारना नहीं मुझे,
माफ़ कर देना वह पाप,
जो तुम्हें छोड़कर मैंने किया था. 

अगर पूरी न कर पाऊँ यात्रा,
तो भी स्वीकार कर लेना मुझे,
मुझे फूल बनकर खिलना है ,
ख़ुश्बू बनकर तुम्हारी 
हवाओं में बिखरना है .


11 टिप्‍पणियां:

  1. आपकी लिखी रचना "सांध्य दैनिक मुखरित मौन में" आज शुक्रवार 19 जून 2020 को साझा की गई है.... "सांध्य दैनिक मुखरित मौन में" पर आप भी आइएगा....धन्यवाद!

    जवाब देंहटाएं
  2. जी नमस्ते ,
    आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल रविवार(२० -०६-२०२०) को 'ख्वाहिशो को रास्ता दूँ' (चर्चा अंक-३७३८) पर भी होगी।
    आप भी सादर आमंत्रित है
    --
    अनीता सैनी

    जवाब देंहटाएं
  3. ल़कडाउन में फँसे श्रमिकों का मार्मिक चित्रण।

    जवाब देंहटाएं
  4. वाह लाजवाब सृजन।बहुत बढिया।

    जवाब देंहटाएं
  5. अपनी जन्मभूमि की मिट्टी की सुगंध से जो नई स्फूर्ति मिलती है वह अन्यत्र दुर्लभ होती है। ना चाहकर भी उससे दूर पेट की आग कर ही लेती है जो मन को कचोटता है जहाँ-कहीं, बार-बार
    बहुत अच्छी मर्मस्पर्शी प्रस्तुति

    जवाब देंहटाएं
  6. मार्मिक
    अति सुंदर चित्रण
    सादर

    जवाब देंहटाएं


  7. अगर पूरी न कर पाऊँ यात्रा,
    तो भी स्वीकार कर लेना मुझे,
    मुझे फूल बनकर खिलना है ,
    ख़ुश्बू बनकर तुम्हारी
    हवाओं में बिखरना है .

    मन को छूने वाले भाव ,बहुत ही अच्छी रचना, कच्ची पक्की सड़क ,पगडंडियों से होकर गुजरना ,सीधे सरल स्वभाव वाले लोग, सोंधी मिट्टी ,हरे भरे खेत खलिहान वाला गांव सबके मन को भाता है, गांव सबको याद आता है ,

    जवाब देंहटाएं
  8. :)
    ज़रूर पहुँचेंगे
    सकारत्मक रहिये

    सिर पर गठरी उठाए,
    छालों भरे पाँवों से
    थके बदन को घसीटते
    मैं निकल पड़ा हूँ
    सैकड़ों मील की यात्रा पर.

    गहरे भाव लिए अच्छी रचना

    जवाब देंहटाएं
  9. बहुत ही उम्दा लिखावट , बहुत ही सुंदर और सटीक तरह से जानकारी दी है आपने ,उम्मीद है आगे भी इसी तरह से बेहतरीन article मिलते रहेंगे
    Best Whatsapp status 2020 (आप सभी के लिए बेहतरीन शायरी और Whatsapp स्टेटस संग्रह) Janvi Pathak

    जवाब देंहटाएं