शुक्रवार, 10 जनवरी 2020

३९६. मुहल्ले

इससे पहले कि कोई गोली चले,
उस मुहल्ले से इस मुहल्ले की ओर,
घुस जाय मेरी छाती में,
मुझे एक ज़रूरी बात कहनी है.

मुझे कहना है 
कि मेरे कई गहरे दोस्त 
उसी मुहल्ले से हैं,
यहाँ तक कि वह झील 
जिसमें मैं अक्सर डूब जाता हूँ,
उसी मुहल्ले की है.

मुझे कहना है 
कि अगर मुझे गोली लगी,
तो मारे जाएंगे कुछ लोग 
दोनों ही मुहल्लों से.

मुझे जो कहना था,
मैंने कह दिया है,
अगर फिर भी तुम चाहो,
तो गोली चला सकते हो,
अब मैं मरने के लिए 
पूरी तरह तैयार हूँ.

3 टिप्‍पणियां:

  1. जी नमस्ते,

    आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल रविवार(१२-०१-२०२०) को "हर खुशी तेरे नाम करते हैं" (चर्चा अंक -३५७८) पर भी होगी।
    चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट अक्सर नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।

    जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
    आप भी सादर आमंत्रित है
    **
    अनीता सैनी

    जवाब देंहटाएं