शनिवार, 14 जुलाई 2018

३१७. एसेंस

वह जो कोने में 
गुमसुम सी लड़की बैठी है,
बहुत सहा है उसने,
बहुत लोगों ने तोड़ा है 
भरोसा उसका,
फ़ायदा उठाया है हर तरह से.

अब कुछ नहीं बोलती 
वह लड़की,
उसे नहीं लगता 
कि कोई सुननेवाला है,
हालाँकि कहने को 
बहुत कुछ है उसके पास.

अब वह लड़की 
प्रतिरोध नहीं करती,
ताक़त ही नहीं है उसमें,
जब भी प्रतिरोध किया,
बेरहमी से कुचला गया उसे.

अब वह लड़की रोती नहीं,
आंसू सूख गए हैं उसके,
पूरी ज़िन्दगी का रोना 
थोड़े समय में ही रो लिया है उसने,
अब पत्थर हो गई है वह लड़की.

कभी भूले-भटके 
कोई हमदर्द मिल जाय,
जो लड़की के दिल को छू ले,
तो एक आंसू छलक आता है 
उसके पलकों की कोर पर.

यह महज़ एक बूँद नहीं है,
लड़की अपने अन्दर 
जिस असीमित वेदना को 
छिपाए हुए है,
यह आंसू उसका एसेंस है.


8 टिप्‍पणियां:

  1. आपकी लिखी ये रचना "पांच लिंकों का आनन्द में" रविवार 15 जुलाई 2018
    को साझा की गई है...............http://halchalwith5links.blogspot.com पर आप भी आइएगा ....धन्यवाद!

    उत्तर देंहटाएं
  2. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल सोमवार (16-07-2018) को "बच्चों का मन होता सच्चा" (चर्चा अंक-3034) पर भी होगी।
    --
    चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
    जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
    --
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    राधा तिवारी

    उत्तर देंहटाएं
  3. वाह!!
    ये सिर्फ कतरा नही है अश्क का सत्व है अंतर के दर्द का।

    उत्तर देंहटाएं
  4. मार्मिक भाव लिये बहुत अच्छी रछना ओंकार जी।

    उत्तर देंहटाएं
  5. आदरणीय ओंकार जी -- सादर आभार पञ्च लिंकों का इतनी संवेदनशील रचना पढवाने के लिए | लडकी के अंतस की वेदना को इतनी आसानी से कोई कहाँ जान पाताहै |एक कहानी छिपी है इस रचना में बहुत ही गहराई लिये जिसे आपने बखूबी लिखा है | इस काव्य - कथ्य के लिए सादर शुभकामनायें |

    उत्तर देंहटाएं
  6. एसेंस की
    भीनी-भीनी खुशबू
    बहुत दिनों तक
    साथ रहेगी.
    पर क्या
    याद रहेगी
    यह बात,
    अगर वो लड़की
    फिर कहीं मिलेगी ?

    बहुत अच्छा लगा पढ़ कर.
    उस लड़की की वेदना कम हो. यह प्रार्थना है, ओंकारजी.

    उत्तर देंहटाएं
  7. समुन्दर है ये आँसू अगर बह निकला तो सब को ले जाएगा बह कर

    उत्तर देंहटाएं